Pain in promise

“Do not feel sad for your tears as rocks never regret the waterfalls” –Munia Khan This is what we expect from a perfect man. But even a stone is not born as a stone, It takes years of hardship, dozens of weather, millions of stumble to form a stone from the soil. It’s an untold … More Pain in promise

एक ख़्वाब

एक नाम जो जुबां पर आकर थम जाता है, एक चेहरा जो बन्द आंखों से भी नज़र आता है, एक हसीं जो नींद में भी गूंजती है कानों में, एक याद जो वजह है बेवजह मुस्कुराने में, एक शख़्स जो उम्मीद है सब कुछ पाने में, एक ख़्वाब जो शायद अधूरा है पूरा हो जाने … More एक ख़्वाब

एक शहीद की कहानी – Part 1

दूरियों का एहसास उनसे पूछो जिनके घर लौटने की सिर्फ़ राह देखी जाती है शायद ये जो बैचेनीयां थी इनकी वजह वो भी जानते थे और मै भी बस फर्क इतना था की वो मुझे मुड़ते हुए देखना चाहते थे और मुझमें मुड़ कर अलविदा कहने की हिम्मत ना थी। अभी कुछ ही कदम बढ़ा … More एक शहीद की कहानी – Part 1

शायद

शायद यह तेरी बेरुखी जवाब है मेरे सवाल का,लेकिन तेरे छिपे हुए आंशु सवाल हैं मेरे, उस जवाब का..। शायद कुछ कमी सी रह गई थी पूरी ख्वाहिश करने में तेरी,इसलिए हमारी यांदे रह गई काफी अधूरी । शायद दूरियां नहीं थी हमारे दर्मियां उतनी, हुईं नज़दीकियों की अनदेखिया जितनी… शायद कुछ था ना ख़त्म … More शायद

यादें

कुछ खास लम्हों की यादें थीं, कुछ हसीन मुलाकातें थीं। कुछ खामोशियां थी बेकरार जज्बातों को बयान करने को, तो कुछ अधूरी ख्वाहिशें थी पूरी करने को। नादानियां हुई भी ना थी अभी पूरी, दूरी अभी भी थी काफी मिटाने को। यूं जो ये एहसास आया है ये वक़्त ने यूं ही नहीं दिखाया है। … More यादें